बहन को चोदकर रखेल बनाया

नमस्कार मेरे मित्रगणों  और सुनाइए कैसे आप सब .. मेरी परिवार  में हम 6 लोग है.. मैं, माँ, पापा और मेरी दो बहनें.. जिनका नाम गीता  और अनुष्का    है. दोस्तों.. में आज आप सभी को मेरे द्वारा‍‌ जबरदस्ती गीता  के साथ बनाए गए गलत संबंधो के बारे बता रहा हूँ. मेरी बहन जब 18 साल की थी.. तब उसके चूचिया  मोटे होना शुरू हो गये थे. जब वो बारहवीं में पढ़ती थी. गीता  बचपन से ही बहुत सुंदर है और जैसे जैसे गीता  बड़ी होती गई वैसे वैसे उसकी जवानी चड़ती गई और गीता  कली से फूल बन गयी. अब जो भी गीता  को देखता है वो पागल हो जाता.. गीता  का गोरा बदन, मोटे मोटे चूचिया , मस्ताने चूतड़ मुझे बहुत पागल बना रहे थे और फिर धीरे धीरे मेरा नज़रिया मेरी बहन के लिए बदलने लगा. मुझे उसमे अपनी बहन कभी नहीं दिखती थी.. गीता  मुझे केवल …

Read Story

दीदी की चूत अंकल का लंड

क्या हाल चाल मेरे मित्रगणों  कैसे है आप सब आशा है अच्छे होंगे और चुदाई के जुगाड़ में होंगे , स्टोरी पढ़ने वाले सभी लोगो का मेरी तरफ से स्वागत है. मैंने इस साईट की लगभग सारी स्टोरी को पढ़ा है, इससे अनुभव लेकर आज में आपके लिए एक ऐसी कहानी लिखने जा रहा हूँ जिसे पढ़ने के बाद आपको पता चलेगा कि किस तरह से एक लड़की इतनी मजबूर हो जाती है कि उसे अपने शरीर की भूख को शांत करने के लिए किसी दूसरे मर्द के साथ सोना पड़ता है. लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों.  मेरे मित्रगणों  क्या मॉल थी उसकी चुची पीकर मजा आ गया अब इससे पहले कि में अपनी ये कहानी शुरू करूँ में सबसे पहले आपका परिचय अपने परिवार के लोंगो से करा दूँ. मेरे परिवार में चार लोग है पापा, मम्मी, में और मेरी दीदी. मेरे पापा अमेरिका में रहते है, …

Read Story

कामवाली ने दूध पिलाकर चोदना सिखाया

मेरे मित्रगणों  मै आप सब का हार्दिक अभिनंदन करता हु, मेरा नाम सत्यदीप  है और यह उस वक़्त की बात है जब में हाई स्कूल में था. हम लोग लखनऊ में रहते थे और हमारे घर में एक नौकरानी थी, जिसका नाम पिंकी  था और उसकी उम्र 33 साल, फिगर साईज 38-36-40 था, वो दिखने में बहुत सेक्सी थी, लेकिन उसका रंग सांवला था और चूचियाँ तो ऐसी थी कि दोनों हाथों में एक भी ना आए और हमेशा ऐसा लगता था, जैसे कहती हो आओ मुझे चूसो प्यारे, उसकी दो शादी भी हो चुकी थी, लेकिन उसके कोई बच्चा नहीं था, में बहुत नासमझ और शर्मिला था. मोटी गांड वाली लड़कियों की बात ही कुछ और है  लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों फिर एक दिन में अपने दोस्तों के साथ स्कूल जा रहा था तो मेरे दोस्तों ने कहा कि एक पिक्चर लगी है देखोगे? तो मैंने …

Read Story

Drishyam, ek chudai ki kahani-3

हेल्लो दोस्तों, अब आगे की कहानी पढ़िए! गर्मी का मौसम था, चीलचिलाती धुप थी। अक्सर गुजरात के छोटे कस्बों में दूकानदार दोपहर को १२.३० से चार बजे के बिच में दुकान बंद कर देते हैं और घर जाकर खाना खा कर सो जाते हैं। मैंने अनुभव किया है की अक्सर इन्हीं समय काल में कई विविध रस से परिपूर्ण कहानियां जन्म लेती हैं। शायद इसी समय में कई नवशिशु के अवतरण के बीज भी बोये जाते होंगे। वैसे ही रश्मिभाई दुकान बंद करने की तैयारी में थे। उस दिन ग्राहकी कुछ ज्यादा तेज थी। रश्मिभाई की भतीजी सिम्मी उनको बुलाने के लिए आ पहुंची थी। चूँकि चाचा को आने में देर हो गयी थी, इस लिए चाची कब से बड़बड़ा रही थी की खाना तैयार था पर चाचा नहीं आये। खाली बैठी सिम्मी ने चाची को कहा, “चाची आप चिंता ना करें। मैं अभी भाग कर जाती हूँ और चाचाजी …

Read Story

Drishyam, ek chudai ki kahani-1

मेरी यह कहानी सत्य तथ्यों पर आधारित है पर पूर्णतया सत्य भी नहीं है। इसमें साहित्यिक दृष्टि से और खास कर इस माध्यम और पाठकों के परिपेक्ष में जो कुछ भी उचित परिवर्तन, सुधार, संक्षिप्तीकरण विस्तृति करण बगैरह करना चाहिए वह करने के पश्चात यह कहानी पाठकों के सामने प्रस्तुत की जा रही है। मेरी हर कहानी साधारण तयः सरल और स्त्री पुरुष के जातीय प्यार और कुछ जातीय (सेक्सुल) नवीनीकरण या साहसिकता से भरी हुई होती है। पर यह कहानी थोड़ी सी अलग है। इसमें जातीय साहसिकता की सिमा लांघ कर मानसिक विकृति कई लोगों के दिमाग में कैसे घर कर जाती है यह दर्शाने की कोशिश की गयी है। मेरी हर कहानी की तरह यह शायद पाठकों को यह कहानी भी लम्बी लगे तो उसके लिए मैं क्षमाप्रार्थी हूँ। मैं जानता हूँ की हर कहानी की तरह यह कहानी सिर्फ चुदाई की कहानी नहीं है। अतः ज्यादातर पाठकों …

Read Story

*दोस्त की चाची आरजू* १

यह कहानी मेरे एक दोस्त इम्तियाज़ की है, उसी के शब्दों में पेश कर रहा हूँ ! मेरा नाम इम्तियाज़ है। बात उन दिनों की है जब मेरी उम्र 19 साल की थी और मैं इंजीनियरिंग के पहले साल में बंगलौर में पढ़ रहा था। मैं बनारस का रहने वाला हूँ। मेरे एक्जाम समाप्त हो गए थे तो कुछ दिनों की छुट्टियों में घर आया था। हमारा संयुक्त परिवार है, मेरे परिवार के अलावा मेरे चाचा एवं चाची भी साथ में ही रहते थे। मेरे चाचा पेशे से सैनेटरी वेयर के थोक विक्रेता थे, उन्होंने काफी पैसा कमा रखा था। उनकी शादी को कई साल हो गए थे लेकिन अभी तक कोई संतान नहीं थी। चाची की उम्र 29 साल की थी, वो पास के ही एक गाँव की हैं ! थी तो देहाती पर मस्त चीज थी, उनकी जवानी पूरे शवाब पर थी, झक्क गोरा बदन और कंटीले नैन …

Read Story

छोटे भाई की बीवी को एक महीने तक चोदा

हेलो दोस्तों, मेरा नाम सतेंद्र जैन है, मेरी उम्र 30 साल है और मेरा पटना बिहार में कपडे का कारोबार है। मेरी पत्नी मुझे 4 साल पहले छोड़ के चली गई और मैंने अकेले अपने बच्चों का पालन पोषण किया। मेरे एक लड़का और एक लड़की है | मेरे दो भाई है, नरेन्द्र जैन और सुरेंद्र जैन! नरेन्द्र 29 साल का है और अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है। छोटा भाई सुरेंद्र जैन  इंजीनियर है और मैंने 2 साल पहले उसकी शादी कर दी थी। शादी के बाद नयी बहु मेरे घर आयी। बहु का नाम पारुल है और वो देखने में भी एकदम सेक्सी और बहुत ही आकर्षक है। शादी के बाद पास पड़ोस के लड़के तो जैसे उसे देखने के लिए व्याकुल रहते थे। हो भी क्यों न लम्बा कद, गोरा रंग और भरा हुवा बदन। पारुल की उम्र 26 साल थी। उसके बूब्स बहुत आकर्षक …

Read Story

में पहली बार गैर मर्द से चुदी

hindi-sexkahani-gair-mard.jpg

नमस्कार मेरे मित्रगणों  और सुनाइए कैसे आप सब मेरा नाम प्रीति  है और मेरी उम्र 30 साल है में लखीमपुरखीरी  में रहती हूँ और मेरी शादी को तीन साल हो गये है. मेरे घर पर मेरे पति और मेरा एक साल का बेटा रहता है. मेरे फिगर का साईज 34-32-36 है और मेरा रंग गोरा, बड़ी बड़ी काली आखें, गुलाबी होंठ, उभरी हुई गांड, बड़े आकार के चूचिया  जिनका हर कोई दीवाना बन जाता है. वैसे मुझे शुरू से ही अच्छे दिखने का बहुत शौक था और में अपनी शादी होने के पहले हमेशा बिल्कुल तंग कपड़े पहनती थी जिससे मेरे हर एक अंग का आकार बाहर से साफ साफ नजर आता था और उसी वजह से हर कोई मेरी जवानी के पीछे पागल था. लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों.  मेरे मित्रगणों  क्या मॉल थी उसकी चुची पीकर मजा आ गया दोस्तों में आज आप सभी चाहने वालों …

Read Story

तीन गुंडो के साथ पहली सुहागरात

3 gundo ke sath suhagrat sex antarvasna

आप सब कैसे है,क्या हाल चाल मेरे मित्रगणों  कैसे है आप सब आशा है अच्छे होंगे और चुदाई के जुगाड़ में होंगे , मेरा नाम फातिमा छोड़वने  है और में 24 साल की हूँ. मेरा फिगर 33-28-36 है, में ग़ज़िआबाद  की रहनी वाली हूँ. यह कहानी कई साल पहले की है जब में ग्रेजुयेशन के लिए किसी दोस्त के घर पर रह रही थी, उन दिनों में अपनी सहेली फरहीन  के घर पर रहकर अपनी ग्रेजुयेशन कर रही थी. हम उनकी मम्मी और मौसी के साथ रहते थे, फरहीन  के पापा ग़ज़िआबाद  से बाहर काम करते थे और उसका भाई बोर्डिंग स्कूल में रहता था. लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों.  मेरे मित्रगणों  क्या मॉल थी उसकी चुची पीकर मजा आ गया घर पर कोई भी मर्द नहीं रहता था, फरहीन  की मम्मी ने कह रखा था कि कोई भी लड़का घर पर ना आए, वो बहुत गुस्से वाली …

Read Story

तीन मस्त लोड़ो ने पूरी रात चोदा

hindi sex kahani

कैसे है आप सब आशा है अच्छे होंगे और चुदाई के जुगाड़ में होंगे , मेरा नाम मोना चोदवाणी   है और में भदोही  के पास एक छोटे से गाँव में रहती हूँ और में अपनी जॉब  के लिए तैयारी कर रही हूँ. मेरी दो दोस्त की मुझसे पहले ही जॉब  लग चुकी है और उनमे से एक की तो कुछ समय पहले शादी भी हो गई. मोटी गांड वाली लड़कियों की बात ही कुछ और है. मेरे प्यारे दोस्तो चुची पिने का मजा ही कुछ और है हम सभी का एक बहुत अच्छा दोस्त है जिसका नाम फरमान कुरैशी  है और उसकी उम्र 22 साल, वो लंबा और पतला सा बहुत अच्छा दिखने वाला लड़का है. दोस्तों वो भले ही एक टेक्सी ड्राईवर है, लेकिन उसने करीब 8 महीने पहले हम तीनों को पहली बार चोदा था और तब से में उसे राज़ा ही बोलती हूँ और अब में उससे …

Read Story

error: Content is protected !!