गर्लफ्रेंड की सील तोड़ी उसी के घर में

नमस्कार साथियों, मेरा नाम भीमा है और मैं 22 साल का हु. मैं अमेठी का रहने वाला हु. जो कहानी मैं आपको बताने जा रहा हु. वो 3 साल पुरानी है. मेरी गर्लफ्रेंड रेनू बड़ी ही खुबसूरत है, हाइट ५.५ होगी और उसका फिगर ३४ – ३० – ३६ का होगा. देखने में बहुत ही खुबसूरत है, लम्बे बाल है. जो उसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा देते है. उसे सूट पहना बहुत अच्छा लगता है और जब वो खास कर चुस्त सूट पहनती है. उसके चूतर अलग से दिखाई देते है. तो उस टाइम मन करता है.. कि बस अब उसे चोद ही डालू.

मित्रों, अब मैं सेक्स स्टोरी पर आता हु. बात तब की है, जब मैं सेकंड इयर में था और वो १स्ट इयर में था और ऐसे हम के मिलते बहुत थे कॉलेज में डेली और कभी मूवी जाते.. तो वहां किस और निप्पल प्रेस्सिंग करते थे. पर कभी आगे नहीं पाए, क्योंकि कोई प्लान नहीं बन पा रहा था. तो हम एक दिन रात को फ़ोन पर फ़ोन सेक्स करते थे और एक दुसरे को सेटइसफाई करते थे. एक दिन हम फ़ोन सेक्स कर रहे थे और जब हमारा फ़ोन सेक्स ख़तम हुआ, तो मैं उसको बोला – यार अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है. फिर उसने बोला – यार एक बात कहू.. मेरे घर वाले शादी में जाने वाले है २ दिन के बाद. मेरे एक्साम्स है, इसलिए मैं नहीं जा रही हु. मुझे एग्जाम की तैयारी कर ने के लिए रुकी हु. मैं तो एकदम से बहुत खुश हो गया और अब मैं वेट करने लगा उस दिन का साथियों.

साथियों वो दिन आ गया और उस ने सब के जाने के मुझे कॉल करा और बोला, कि सब चले गये है, तुम आ जाओ. मैं तो अभी तक सो ही रहा था. उसकी ये बात सुन कर मैं फटाफट उठा और नहा कर उसके घर जाने लगा. तो मेरी माँ ने पूछा – कहाँ जा रहे हो? मैंने कहा – एक फ्रेंड का बर्थडे है आज. मैं शाम तक ही आऊंगा. माँ ने मुझसे खाने के लिए पूछा. तो मैंने कहा, कि मैं रात को ही खाना खाऊंगा. लंच बाहर ही करूँगा. रास्ते में मेडिकल शॉप से कंडोम के पैकेट ले गया.

साथियों मैं उसके घर के वहां पंहुचा और कार मैंने उसके घर से थोड़ा दूर ही खड़ी कर दी और कॉल करा – “मैं पहुच गया हु”. उसने कहा – सीधे अन्दर आ जाओ, दरवाजा खुला है. मैं उसके घर के अन्दर चले गया और डोर को अन्दर से लॉक कर दिया और मैं फिर ड्राइंगरूम में बैठ गया. फिर वो कोल्ड ड्रिंक ले कर आई और मैंने कोल्ड ड्रिंक पी कर उस को अपने पास खीच लिया और उसके होठो पर किस करने लगा. मैंने उसे गोद में उठा लिया और उसे उसके बेडरूम में ले गया. वहां जाते ही, उसको होठो को होठो से लगा कर किस करने लगा. काफी देर बाद, हमने किस थोड़ी देर और किया और फिर मैंने उसको बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. पहले तो मैंने उसे फॉरहेड, चिक पर, एअर पर, नैक पर किस करने लगा. फिर मैंने उसके होठो पर किस करने लगा और बीच – बीच में बाईट भी कर लेता था बीच – बीच में. वो अहहाह अहहाह अहहाह करती थी और फिर प्यास से वो मुझे भी बाईट करती. ऐसे कोई ५ मिनट मिनट चलता रहा. फिर मैं उसकी नेक पर आया और कस के.. एक लव बाईट काट लिया. वो तड़प गये पेन से.. मैंने इतना जोर से बाईट करा, कि उसकी आँखों से आसू निकलने लगे.

Read New Story..  Drishyam, ek chudai ki kahani-13

मैंने उसे लिप किस किया और दोनों हाथो से उसके निप्पल को प्रेस करने लगा. फिर मैंने कोई 5० मिनट तक उसके निप्पल को प्रेस किया होगा और किस किया होगा. ये सब मैं उसको गरम करने के लिए कर रहा था और वो कुछ ज्यादा ही गरम हो गयी. उसने मुझे धक्का दिया और मुझे लिटा के खुद मेरे ऊपर आ गयी. और उसने जो रेड सूट पाया हुआ था, बड़ी कयामत लग रही थी उसमे. उसका कुरता उतारा और फिर उसने मेरी शर्ट को उतार दिया. फिर वो मेरे पर झुकी और मेरे मुह पर अपने निप्पल रख दिए. मैं तो पागल सा हो गया और मैंने खीच कर उसकी ब्रा को बीच में से फाड़ दिया. अब उसके दोनों निप्पल एकदम से बाहर आ गए. मैंने एक को मुह ले कर खूब चूसा और दुसरे को खूब प्रेस किया. मैंने उसे धक्का दिया और वो मेरे नीचे आ गयी. अब मैं उसके ऊपर आ गया था/ क्या सॉफ्ट – सॉफ्ट स्किन थी उसकी. दिल तो कर रहा था, कि सारी लाइफ ऐसे ही कट जाए. फिर मैंने उसकी प्य्जामी को उतारना शुरू किया. तो वो बोली – इतनी आसानी से थोड़ा ना उतारने दूंगी. अगर कुछ करना है तो मुह से बोलना पड़ेगा.

ये सुन कर मैंने उसे कस कर किस किया और फिर पूरी बॉडी को किस करते – करते पयाजामी के नाड़े पर आया. और उसे अपने मुह से एकदम से खीच लिया और पजामी को हाथ नीचे खीच लिया और उतार दिया. उसने नीचे ब्लैक कलर की पेंटी पहन रखी थी. मैं तो उसकी गोरी – गोरी टांगो को किस करने लगा और चाटने लगा. फिर ऊपर आ कर उसके निप्पल को जोर से काटा और पेंटी के अन्दर हाथ डाल कर उसकी चूत को सहलाने लगा. वो मोअन करने लगी अहहाह अहहाह भीमा आई लव यू… प्लीज लव मी…. अहहाह अहः अहहः अहहाह प्लीज लव मी… मैं तो ये सब सुन कर पागल होने लगा था. फिर मैंने उसकी पेंटी को उतार दिया. क्या क्लीन चूत थी. एक भी बाल नहीं.. और छोटी सी बिलकुल पिंक कलर की. मैं खुद को रोक ही नहीं पा रहा था और मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया. वो आवाज़े निकालने लगी अहः अहहाह अहहाह अहहाह… भीमा… अन्दर तक लिक करो ना.. हाहाहा अहहाह मैं तो इतना पागल हो गया, कि मैंने २ – ३ बाईट भी काट लिया और वो पेन और प्लेजर से तड़पने लगी. वो मेरे सिर को अपनी दोनों टांगो से दबाने लगी और अपने हाथो से मेरे सिर को चूत के अन्दर प्रेस करने लगी.

कोई ५ मिनट के बाद, वो झड़ गयी और उसकी चूत से वीर्य निकलने लगा. मैंने वो पूरा चाट कर साफ़ कर दिया. वो इतनी खुश थी, कि बोली – मैं रोजाना अपनी चूत में फिंगर करती थी. लेकिन मुझे वो मज़ा कभी नहीं आया.. जो मुझे तुमने आज दिया है. इतना मज़ा मुझे आज पहली बार आया है. उसने फिर मुझे अपनी जीन्स उतारने को कहा. तो मैंने भी बोल दिया, कि तुम खुद ही निकाल दो. उसने मेरे जीन्स को कस कर पकड़ा और और मुझे लिप्स किस करने लगी और हुक खोल कर जीन्स को नीचे उतारने लगी. मेरी चड्डी का तो टेंट बना हुआ था और फिर वो बोली – कितना बड़ा है तुम्हारा. फिर उसने मुझे धक्का मार कर लेटा दिया और चड्डी उतार कर, उसने मुझे पूरा का पूरा नंगा कर दिया. जैसे ही उसने मेरे लंड को अपने कोमल हाथो से पकड़ा, मुझ से रहा नही गया और मैंने उसे अपने ऊपर खीचा और उस से लिपट कर उसे किस करने लगा. हम एक दुसरे से शरीर को रगड़ने लगे. फिर वो बोली – मुझे तुम्हारा लंड चुसना है.

Read New Story..  सेक्सी स्टूडेंट की सील तोड़ी

फिर हम ६९ पोजीशन में आ गये और वो मेरा लंड चूसने लगी और मैं उसकी चूत चाटने लगा. फीलिंग तो इतनी अवेसोम थी, कि मैं उसको वर्ड्स में बता नहीं सकता. उसकी चूत की खुशबु मेरे दिमाग पर हावी हो रही थी. मैं तो सातवे आसमान पर था. ये मेरा पहला ब्लो जॉब था. रेनू से. इसलिए मैंने ८ मिनट में ही उसके मुह में पिचकारी छोड़ दी. उसे ये अच्छा नहीं लगा और फिर उसने सारा माल फ्लोर पर थूक दिया. फिर उसने मेरे लंड को बेडशीट से साफ़ किया. हम दोनों ५ मिनट तक क्रैडल करते रहे. ५ मिनट के बाद, मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और मैंने कहा – बेबी, अब मेरे लंड को अपनी चूत का स्वाद दे दो. ये उसकी पहली चुदाई थी. वो बोली – प्यार से चोदना. मैंने उसको फिर बेड पर लिटा दिया और उसकी दोनों टांगो फैला दिया और अपने लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा. वो तड़पने लगी और आगे आने लगी. बट मैं उसको और भी ज्यादा तड़पना चाहता था. तो मैंने अपने लंड को अभी तक अन्दर नहीं डाला था.

इसके बाद वो बोलने लगी – प्लीज, फक मी नाउ.. आई कैन नॉट वेट एनी मोर… प्लीज फक मी… फक मी.. मैंने लंड उसकी चूत पर रखा और थोड़ा सा अन्दर डाला और उस पर लेट गया. फिर मैंने उसके फेस को पकड़ लिया और उसको लिप किस करने लगा. मैंने उसके निप्पल को अपने दोनों हाथो में ले लिया और उसको प्रेस करने लगा. फिर मैंने एक जोरदार धक्का मारा और मेरा लंड उसकी चूत में उतर गया. रेनू की तो जैसे जान ही निकल गयी. वो चिल्ला भी दी बट आवाज़ ही नहीं निकली, क्योंकि हमने लिप लॉक किया हुआ था. उसकी आँखों से आंसू आने लगे और वो बोली – प्यार से करने को कहा था. फिर थोड़ी देर तक हम ऐसे ही लेटे रहे और वो बोली – अब थोड़ा पेन कम हो गया है. जैसे ही उसने ये बोला मुझे, मैंने एक और जोर का धक्का मार दिया और अपना पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. वो अब बहुत जोर से चिल्ला पड़ी… भीमा छोड़ दे मुझे… मुझे कुछ नहीं करना है. मैं मर जाउंगी.. प्लीज लीव मी.. उसकी चूत से खून निकलने लगा था. उसकी सील टूट गयी थी. मैंने उसको कस कर अपने नीचे पकड़ रखा था और मैंने उसको ५ मिनट तक किस किया.

इसके बाद उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने कहा – अब स्टार्ट करू? वो बोली – हाँ भीमा. लेकिन थोड़े प्यार से करना. फर्स्ट टाइम है मेरा. अगर पेन हुआ, तो नेक्स्ट टाइम नहीं करने दूंगी. मैंने धीरे – धीरे धक्का मारना स्टार्ट किया, तो वो मोअन करने लगी. २ मिनट में ही उसका पेन प्लेजर में बदल गया. अहः अहहाह फक मी… फक मी बेबी… भीमा आई लव यू… और जोर से चोदो ना… और जोर से… मैं ये सुनकर उसको और भी ज्यादा तेजी से चोदने लगा. अहः अहहाह अहः बेबी हार्ड… फक मी… हाहाह अहहाह आहाहाह.. उसकी ये आवाज़े मुझे और भी सेक्स चड़ा रही थी. वो झड़ने वाली थी और थोड़ी देर बाद में झड गयी. लेकिन मैं अभी तक नहीं झड़ा था और मैं उसको चोदता रहा. १० मिनट के बाद मुझे लगा, कि मैं भी झड़ने वाला हु, तो मैंने अपना लंड उसकी चूत में से बाहर निकाल दिया. रेनू को मेरे मुह में लेने को बोला और वो मेरे लंड को चूसने लगी. फिर मैंने उसके मुह में मुठ छोड़ दिया. इस बार वो मुठ थूक ना पाए, इसलिए मैंने उसके सिर को पकड़ लिया.

Read New Story..  मैडम को खुश किया - Madam Ko Khush Kiya

इसके बाद उसने मेरे मुठ को पी लिया और हम दोनों नंगे ही लेट गये बेड पर. थोड़ी देर में वो उठी और बोली – मैं नहाने जा रही हु. अगर तुम्हे आना हो, तो आ जाना. मैं समझ गया, कि रेनू साथ में नहाना चाहती है. मैंने थोड़ी देर बाद गया बाथरूम में. वो अपनी चूत देख रही थी. मुझे देख कर बोली – बिलकुल भी रहम नहीं किया ना तुमने मेरी चूत पर. लाल कर दी चोद – चोद कर. ये सुन कर मैंने उसे अपनी बाहों में ले लिया और शावर चला दिया. उसने मेरे सीने पर अपना सिर रख दिया और फिर अपने शरीर को चिपका लिया. मैंने भी उसे कस कर पकड़ रखा था. ऐसे ही २ मिनट तक खड़े रहे और फिर एक दुसरे को सोप लगाने लगे. उसने मेरा खड़ा लंड पकड़ लिया और बोली – लाओ, इसे भी साफ़ कर देती हु. फिर वो मेरे लंड पर भो सोप लगाने लगी. उसके सॉफ्ट – सॉफ्ट हाथ के कारण, मेरे लंड ने फिर से खड़ा होना शुरू कर दिया इर मेरा मन उसको फिर से चोदने का होने लगा.

इसके बाद रेनू ने मेरे लंड को साफ़ कर दिया और मैंने भी उसकी चूत को साफ़ करना शुरू किया. मैं उसकी चूत पर सोप लगाने लगा, तो सोप मेरे हाथ से छुट कर पीछे गिर गया. वो पीछे मुड़ी और सोप उठाने के लिए जैसे झुकी और पीछे से जैसी ही उसकी चूत मुझे दिखी. मैंने उसको पकड़ लिया और उसको नीचे बैठा दिया और उसकी उसकी चूत पर लंड को सेट करके अन्दर डाल दिया. रेनू बोली – प्लीज, अब और नहीं. लेकिन मैं भी कहाँ रुकने वाला था. मैंने उसे डोगी स्टाइल में चोदना शुरू कर दिया. वो भी मज़े लेने लगी और मुझे पीछे धक्का देने लगी. मैं उसके ऊपर चढ़ गया और उसके निप्पल को दबाने लगा. बाथरूम में थप – थप की आवाज़े आने लगी. इसके बाद जब मैं झड़ने वाला था, तो मैंने उसे सीधा कर के लेटा दिया और लंड चूत में डाल कर कस के धक्का मारने लगा. वो बोली – मुठ बाहर निकालना. लेकिन मुझ से रहा नहीं जा रहा था और मैंने धक्का लगाना और तेज कर दिया और उसके अन्दर ही झड गया. फिर मैं शावर में ही ५ मिनट तक उसके ऊपर लेटा रहा. वो बोली – मैं प्रेग्नेंट हो गयी अब.  अब में बहुत चिंतित रहती हूँ. क्युकी मजा में झंझा लग गया था. मैंने कहा – मैं अभी पिल्स ला दूंगा तुम्हे. तुम फिकर मत करो. तो दोस्तों, ये थी मेरी कहानी.. मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई की…वह दिन आज भी मुझे याद है

Rate this post
error: Content is protected !!