बीवी की हवस ने गांड फाड़ डाली

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम चन्द्रमादि  है और में इस वेबसाइट का बहुत बड़ा देवना  हूँ और मुझे इस साईट पर कहानियाँ पड़ना बहुत अच्छा लगता है. दोस्तों में आज आप सभी को अपनी एक सच्ची घटना सुनाने जा रहा हूँ और यह लगभग आज से दो साल पुरानी बात है. में एक बहुत बड़ी प्राइवेट कंपनी में जनरल मेनेजर की नौकरी करता था. फिर कुछ समय पहले ही मेरे माता पिता ने मेरी शादी के लिए लड़की देखना शुरू कर दिया था और फिर उन्होंने मेरी शादी एक सुंदर लड़की रजनी  से करवा दी.. वो दिखने में एकदम सुडौल.. बदन 36 की छाती.. पतली कमर और बहुत ही सुंदर थी और मैंने सुहागरात को उसे 5 बार चोदा और उसने भी मेरा पूरा पूरा साथ दिया. फिर ऐसे ही 3-4 महीने गुज़रे गये और एक दिन मेरी बीवी ने मुझसे कहा कि मुझे चोदा चौड़ी की फिल्म  देखना है. तो में बहुत अचंभित हो गया.. लेकिन फिर भी मैंने पूछा कि तुम्हे किस तरह की चोदा चौड़ी की फिल्म  देखनी है? तो उसने मुझसे कहा कि कोई भी ग्रुपसेक्स वाली फिल्म चलेगी. तो मैंने कहा कि क्यों क्या तुम्हे बहुत सारे मर्दो से चुदवाना है? फिर उसने कहा कि नहीं ऐसे ही.. बस आप मुझे सीडी ला दो. क्या दोस्तों आपने कभी भाभी को चोदा है कितना मजा आया बताना जरा.

 मोटी गांड वाली लड़कियों की बात ही कुछ और है तो मैंने कहा कि ठीक है और में सीडी लेकर आ गया और उस रात में हम दोनों ने मिलकर चोदा चौड़ी की फिल्म  देखी और सेक्स किया. तभी अचानक मुझे कंपनी के किसी जरूरी काम से जर्मनी जाना पड़ा.. मेरी पत्नी ने बहुत जिद कि तो मैंने भी उसे अपने साथ ले लिया और जर्मनी में मैंने एक फ्लेट बुक करवाया और एक दिन ऑफिस का काम खत्म करके रात को में अपने फ्लेट पर लौटा तो मैंने देखा कि एक ब्रा बेड के नीचे गिरी हुई है क्योंकि में अपनी पत्नी की सभी ब्रा पहचानता था इसलिए में जान गया कि यह मेरी पत्नी की ब्रा नहीं है.. लेकिन फिर भी मैंने उससे कुछ नहीं बोला और रूम में एक छोटा सा केमरा लगवा दिया और जिसकी जानकारी मेरी पत्नी को नहीं थी. फिर उसके अगले दिन से मैंने उस पर निगरानी रखनी शुरू कर दी. फिर लगभग दोपहर के 2 बजे मैंने देखा कि वो किसी को फोन कर रही है और एक घंटे के बाद रूम में अंदर एक विदेशी लड़की आई.. उस लड़की को रूम पर देखकर में बहुत चकित हो गया और फिर अगले ही पल मेरी पत्नी और वो एक दूसरे को किस करने लगे.. आहह की आवाज़ कैमरे के माइक्रोफोन से बहुत धीमी धीमी सुनाई देती थी. लड़किया क्युआ गजब चुदकड़ होती है दोस्तों.

 मेरे मित्रगणों  क्या मॉल थी उसकी चुची पीकर मजा आ गया फिर उस लड़की ने अपना गाऊन उतारा.. मेरी पत्नी का चेहरा एकदम लाल हो गया और मेरी पत्नी उस लड़की की छाती को दबाने लगी और उसकी ब्रा को खोल दिया. में पहली बार एक दूसरी लड़की के बूब्स को देखकर मुठ मारने लगा.. तब विदेशी लड़की ने मेरी बीवी की साड़ी को उतारा और फिर पेटिकोट, फिर पेंटी को भी उतारा.. फिर वो उसकी चूत को चूसने लगी. तभी मेरी बीवी की ज़ोर ज़ोर से आहह उफ्फ्फ आईईइ आहह आवाज़ आने लगी और फिर उस लड़की ने अपने पर्स से लंड के आकार का एक खिलौना निकाला और उससे मेरी बीवी को चोदने लगी और फिर कुछ देर बाद मेरी बीवी की चूत से चूत का रस निकलने लगा.. वो एकदम निढाल होकर पड़ी रही और उसके कुछ समय के बाद मेरी बीवी ने उसको पूरी तरह नंगा कर दिया और दो लडकियों को एक रूम में इस तरह एकदम नंगी देखकर मेरे शरीर में करंट लगने लगा और में ज़ोर ज़ोर से मुठ मारने लगा. फिर वो विदेशी लड़की उस लंड को मेरी बीवी के मुहं में डाल रही थी.. लेकिन वो रबड़ का बना हुआ था इसलिए वो लंड बड़ी आसानी से उसके मुहं के बहुत अंदर तक चला गया और दूसरी तरफ रजनी  अपनी एक उंगली को उसकी चूत में डालकर ज़ोर ज़ोर से हिला रही थी. तभी कुछ ही देर के बाद वो झड़ गई और फिर दोनों ने एक दूसरे को किस किया और एक दूसरे का दूध पिया.. मै एक नंबर का आवारा चोदा पेली करने वाला  लड़का हु मुझे लड़किया चोदना अच्छा लगता है.

Read New Story..  Drishyam, ek chudai ki kahani-30

 क्या दोस्तों आपने अपने बहन की चूची को दबाया है बारी बारी से एक दूसरे की चूत में लंड डालकर एक दूसरे की चूत को शांत किया. फिर उस लड़की ने मेरी बीवी को एक कपड़े का सेट दिया और वो दोनों कपड़े पहनने लगी. फिर मेरी बीवी ने चाय बनाई और उन दोनों ने एक साथ बैठकर चाय पी और बहुत देर तक बातें कि.. फिर वो लड़की चली गयी. दोस्तों यह सिलसिला 12 दिनों तक चला और तेरहवें दिन मैंने बीच में ही आने का प्लान बनाया. फिर मैंने केमरे से देखा कि वो लड़की फ्लेट के अंदर जा चुकी थी.. मेरे फ्लेट की दो चाबी थी तो उसके अंदर जाने के 10 मिनट बाद में आया और चुपके से गेट खोला और अंदर घुस गया. तो मैंने देखा कि बेडरूम में मेरी पत्नी रजनी  और वो विदेशी लड़की सेक्स कर रहे थे. में अचानक से बेडरूम में घुस गया और मैंने देखा कि वो दोनों बड़ी ही आपत्तिजनक स्थिति में थी और मेरी पत्नी तो एकदम नंगी खड़ी रही.. लेकिन उस विदेशी लड़की ने मुझे देखकर एक कपड़े से अपने आप को ढकने का प्रयास किया. मेरे प्यारे दोस्तो चुची पिने का मजा ही कुछ और है.

 ये कहानी पढ़ कर आपका लंड खड़ा नहीं हुआ तो बताना  लड खड़ा ही हो जायेगा  तो मैंने कहा कि यह सब क्या हो रहा है? तब वो दोनों भौचक्के होकर मुझे देख रहे थे. तभी मेरी बीवी ने कहा कि यह एक डॉक्टर है और मुझे चेक करने आई है कि में कब तक गर्भवती हो जाउंगी. तो मैंने पूछा कि.. लेकिन इसमे कपड़े खोलने की बात कहाँ हुई? तो उसने कहा कि वो मेरी चूत को चेक करना चाहती थी इसलिए.. मैंने कहा कि ठीक है.. लेकिन उसके लिए तुम्हे कपड़े खोलने थे.. लेकिन इस डॉक्टर ने अपने पूरे कपड़े क्यों खोल रखे है? तो रजनी  ने कहा कि नहीं मैंने इससे ऐसा करने को कहा था. तो मैंने कहा कि ठीक है और पूछा कि यह तुम्हे कितने दिनों से चेक कर रही है? तब मेरी पत्नी बोली कि पिछले 12 दिनों से. तो मैंने पूछा कि इसका मतलब पिछले 12 दिनों से तुम दोनों एक ही रूम में नंगे होकर रहते हो? तो उन दोनों ने कोई जवाब नहीं दिया और मैंने कहा कि मैंने तुम दोनों केमरे से सेक्स करते हुए देखा है. तब उस विदेशी लड़की ने अपने ऊपर से वो कपड़ा हटा लिया और वो बोली कि जब तुमने यह सब देख ही लिया है तो अब तुमसे शरमाना कैसा? आओ हम तीनो मिलकर सेक्स करते है बड़ा मज़ा आएगा. मेरे मित्रगणों  चुत छोड़ने के बाद सुस्ती सी आ जाती है.   

 क्या बताऊ मेरे मित्रगणों   उसको देखकर किसी लैंड टाइट हो जाये फिर उसने जल्दी से मेरी पेंट के ऊपर से मेरा लंड पकड़ लिया और मेरे लंड को सहलाने लगी.. फिर क्या था? में भी जोश में आ गया और अपनी बीवी के बूब्स के निप्पल को दबाने लगा. फिर उन दोनों ने मिलकर मेरे सारे कपड़े खोल दिए और वो विदेशी लड़की बेड पर अपने पैर फैलाकर बैठ गयी.. उसकी चूत में से चूत रस बह रहा था और वो एकदम गुलाबी रसीली थी. तो मैंने झट से अपना लंबा लंड उसकी चूत में डाल दिया. वो एकदम कुवांरी चूत थी और फिर उसके मुहं से बहुत ज़ोर की चीख निकली आहह उईईइ अह्ह्ह्ह और दर्द के मारे उसकी जान निकल गयी. फिर दूसरी तरफ मेरी बीवी उसके निप्पल को ज़ोर ज़ोर से दबाए जा रही थी और कुछ देर धक्के देने के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकालकर मुहं में डाला. वो अपना मुहं आगे पीछे करके मेरे लंड की मुठ मार रही थी और कुछ देर बाद मैंने उसके मुहं में ही अपना वीर्य छोड़ दिया और वो पूरा का पूरा लंड चाट चाटकर साफ करने लगी और उसने मेरा पूरा वीर्य चाटकर साफ कर दिया. मेरे मित्रगणों  मने बहुत सी भाभियाँ चोद राखी है.

Read New Story..  Drishyam, ek chudai ki kahani-18

 मेरे मित्रगणों  क्या मलाई वाला माल लग रहा था     फिर हर रोज की तरह आज भी मेरी बीवी ने हम सभी के लिए चाय बनाई और हम सब ने चाय पी और उसने अपना नाम पलक  बताया. फिर दोबारा मिलने का वादा करके वो चली गयी और उसके जाने के बाद में अपनी बीवी को रात भर चोदता रहा. तो रजनी  ने कहा कि क्या बात है आज मेरी चूत को फाड़कर ही रहोगे? तब मैंने कहा कि तुमने इतनी सुंदर लड़की को मुझसे इतने दिनों तक अलग रखा यह उसी का दंड है. फिर दूसरे दिन से वो हर रोज मेरे फ्लेट पर आने लगी और इस तरह हम तीनों ने 15 दिन तक मिलकर सेक्स किया और टूर खत्म होने के बाद हम इंडिया लौट आए. तो एक दिन रजनी  ने मुझसे कहा कि तुम तो एक पराई लड़की से सेक्स कर चुके हो अब में भी कोई पराए लड़के के साथ सेक्स करना चाहती हूँ. तो में भी उसके इस प्रस्ताव के लिए बैताब था.. क्योंकि मैंने नेट पर कनाडा  के एक प्रॉस्टिट्यूशन सेंटर के बारे में पता कर रखा था और वहां पर एक इंडियन कपल की ज़रूरत थी और इससे यह फायदा होता कि मेरी बीवी को सेक्स का मौका भी मिल जाता और मुझे एक मोटी रकम भी और मैंने अपनी कंपनी से आग्रह करके अपना टूर कनाडा  में फिक्स करा दिया और हम अगले महीने ही कनाडा  चले गये. चुदाई की कहानी जरूर सुनना चाहिए मजे के लिए.

 साथियो की पुराणी मॉल छोड़ने का मजा ही कुछ और है वहां पर उस प्रॉस्टिट्यूशन सेंटर में हम दोनों पहुंच गये.. चूँकि मेरी पत्नी इतनी सुंदर थी कि वहां के मेनेजर ने उसे एक बार देखते ही रख लिया और 1 लाख डॉलर का प्रस्तव् रखा. तो मेरी बीवी ने उसके सामने एक शर्त रखी और कहा कि में जहाँ भी जाउंगी वहां पर मेरे पति भी जाएँगे? तब उस मेनेजर ने कहा कि हाँ क्यों नहीं आप एक कपल की तरह यहाँ पर रह सकते है और आपको ग्राहक का फोन नंबर, नाम, पता मेसेज कर दिया जाएगा. फिर हम अपने फ्लेट पर चले गये और उसके दो दिन के बाद हमे एक मेसेज आया कि आपको एक कपल ने शाम को बुलाया है. तो हम दोनों दिए हुए पते पर पहुँच गये और मैंने दरवाजे पर लगी हुई बेल बजाई.. तभी अंदर से एक बहुत सुंदर औरत निकली उसका जिस्म एकदम सेक्सी दिख रहा था और उसके बूब्स बहुत अच्छे दिख रहे थे. तो उसने मुझसे पूछा कि आप कौन हो और क्या काम है? तो मैंने पूछा कि क्या यह चार्ली मट्टिंसों का घर है? तो उसने कहा कि हाँ तब हमने कहा कि हम प्रॉस्टिट्यूशन सेंटर की तरफ से आए है. उसने कहा कि में ही चार्ली मट्टिंसों हूँ वो औरत लगभग 42 की रही होगी.. कसी हुई छाती, उभरी हुई चूचियाँ वो एक नॉर्मल स्कर्ट टॉप में थी.. लेकिन वो इस कपड़े में बहुत सुंदर लग रही थी. अब सुनिए चुदाई की असली कहानी.

 मेरे मित्रगणों  एक बार चोदते  चोदते  मेरा लंड घिस गया तो उसने रजनी  मतलब मेरी वाईफ को सामने वाले रूम में जाने को कहा क्योंकि उसके पति उसी रूम में थे और हम दोनों को अलग अलग रूम में रखा गया और उन दोनों रूम के बीच की दीवार में एक 10 इंच का मोटा शीशा लगा हुआ था ताकि उसकी पत्नी भी अपने पति को सेक्स करते हुए देख सके.. लेकिन उसको उसका पति नहीं देख सकता था. फिर उस औरत ने अपना टॉप खोल दिया और मुझे किस करने लगी.. उसका होंठ मानो रस से भरा था और में उसको किस करते हुए उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था और साथ में अपनी बीवी और उसके पति का सेक्स देख रहा था. फिर मैंने उस औरत की ब्रा को उतार दिया और उसके एकदम गुलाबी निप्पल देखते ही में जोश में आ गया और चूसने लगा. मैंने उसकी स्कर्ट को भी उतार दिया और उसकी पेंटी में हाथ घुसाकर चूत में उंगली करने लगा. तभी अचानक मैंने देखा कि एक ग्रुप में 8 और लड़कियां आ गयी और उन सबने मिलकर मेरे सारे कपड़े उतार दिए और उसी वक़्त मैंने देखा कि मेरे सामने वेल कमरे में भी 8 लड़के और आ गये. तो में समझ गया कि आज हम दोनों की वॉट लगने वाली है.. वहा का माहौल बहुत अच्छा था  मेरे मित्रगणों .

Read New Story..  Drishyam, ek chudai ki kahani- 10

 मेरे मित्रगणों  उस लड़की मैंने चुत का खून निकल दिया एक लड़की ने मुझे बेड पर गिरा दिया और मेरे मुहं पर चूत रखकर चटवाने लगी और एक लड़की मेरे लंड को अपने दोनों हाथों से पकड़कर ज़ोर ज़ोर से हिलाकर मुठ मार रही थी और एक लड़की मेरे मुहं पर किस कर रही थी. एक लड़की मेरी छाती दबा रही थी तो दूसरी लड़की मेरे मुहं में थूक रही थी फिर एक ने मेरे शरीर पर पेशाब कर दिया और में पूरी तरह बेहाल हो गया. तभी मैंने देखा कि दूसरे कमरे में रजनी  की चूत में एक मर्द ने अपना मोटा लंबा सा लंड डाला.. वो ज़ोर से चीख पड़ी.. लेकिन वहां पर किसे उसकी परवाह थी और दूसरी तरफ उसकी गांड में.. उसके मुहं में लंड घुसाया जा रहा था.. वो आह्ह्ह आह्ह्ह ईईई बचाओ चिल्ला रही थी. फिर मुझे बेड पर से उठाया और उन सब लड़कियों ने बारी बारी से मेरे मुहं में थूका.. में चुपचाप सबका थूक पीता गया.. तब एक लड़की ने कहा कि आओ मुझे चोदो.. मैंने ख़ुशी से उसके ऑर्डर को माना और मैंने एक झटके में अपना लंबा लंड उसकी चूत में घुसा दिया.. वो ज़ोर से चिल्लाई आहह ऑश ईडियट और वो कहने लगी कि झड़ते टाईम लंड को चूत से बाहर निकालकर पूरा वीर्य उसके मुहं में डालना. तो में दस मिनट में ही झड़ गया और सारा वीर्य उसके मुहं में डाल दिया और फिर उसने कहा वीर्य बहुत टेस्टी था. फिर एक लड़की ने कहा कि दोनों पति पत्नी की गांड को साथ में चुदवाया जाए. वहा जबरजस्त माल भी थी मेरे मित्रगणों  .

 मेरे मित्रगणों  चोदते चोदते चुत का भोसड़ा बन गया तो में बहुत डर गया क्योंकि मैंने आज तक यह काम नहीं किया था और मेरी गांड बहुत टाईट भी थी. लेकिन कभी कभी में अपनी बीवी की गांड चाटता था. फिर हम दोनों को कुत्ता और कुतिया बना दिया गया और दो लंबे लंबे लंड वाले दो लोग आए और उन्होंने एक साथ में हम दोनों की गांड में लंड डाल दिया. मेरी बीवी की गांड में लंड तुरंत घुस गया.. लेकिन में चिल्ला पड़ा.. आहह मदरचोद चोद दिया मेरी गांड इसे छोड़ दे.. इसमें लंड नहीं जाएगा.. यह चूत नहीं मेरी गांड है.. लेकिन फिर भी उसने किसी तरह मेरी गांड में अपना लंड घुसा ही दिया और मेरी गांड से खून निकलने लगा. तब वो सब लड़कियां हंसने लगी और उन्होंने कहा कि हमे चोदने चला था और इसी की चुदाई हो गयी. फिर करीब दस मिनट तक वो मेरी गांड में लंड को ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदता रहा और उधर मेरी बीवी का भी हाल बहुत बुरा था. उसकी गांड भी उस लंड को ज्यादा देर तक नहीं सह सकती थी. फिर हमारी किस्मत से वो जल्दी ही झड़ गए और हमारी गांड को थोड़ी राहत मिली. फिर कुछ देर बाद हम दोनों ने कपड़े पहने.. कॉफी पी और वहां से सीधा अपने घर चले गये.. लेकिन 10 दिनों तक मुझसे ठीक से चला नहीं जा रहा था. क्योंकि उन्होंने हमारी गांड को बहुत बेरहमी से चोदा था. तो दोस्त्तों यह थी मेरी आपबीती कहानी .. ऐसे माहौल कौन नहीं रहना चाहेगा मेरे मित्रगणों  मेरे मित्रगणों  एक बार मैंने अपने गांव के लड़की जबरजस्ती चोद दिया क्या दोस्तों आपने कभी भाभी को चोदा है कितना मजा आया बताना जरा.

3/5 - (2 votes)
error: Content is protected !!